स्वार्थ की राजनीति ने कानपुर के औद्योगिक ढांचे को बरबाद किया: योगी

0
34

विकास के पैसे को लूटा गया, अराजकता का नया तांडव शुरू हुआ: योगी
विकास का पैसा अब सपाइयों की दीवालों से नोटों की गड्डियों के रूप में निकल रही हैं:योगी
11,000 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित कानपुर मेट्रो रेल परियोजना के प्रथम सेक्शन का शुभारंभ करते प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
लखनऊ/ कानपुर 28 दिसम्बर।
स्वार्थ की राजनीति ने कानपुर के औद्योगिक स्वरूप को बरबाद कर दिया। यहां फैक्ट्रियां बंद हो गईं औद्योगिक गतिविधियां बंद हो गईं, अराजकता का नया तांडव शुरू हुआ। विकास की बात तो दूर विकास के पैसे को लूटा गया। आपने देखा होगा कि दीवालों को खोदकर किस तरह इनकम टैक्स वाले नोटों की गड्डियां निकाल रही हैं। इससे पता चलता है कि विकास का पैसा कहां ले जाया जाता था। कानपुर मेट्रो रेल परियोजना के लोकार्पण अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा पर बड़ा हमला बोलते हुए यह बातें कहीं।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सपा, बसपा और कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि इन दलों ने स्वार्थ की राजनीति करके कानपुर के औद्योगिक ढांचे को पूरी तरह से बरबाद कर दिया। कानपुर से विकास को इतनी दूर कर दिया गया कि यहां का कारोबारी ढांचा तहस-नहस हो गया।
उन्होंने कहा कि मां गंगा के निकट यातायात की आधुनिक सुविधा देने के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का आगमन हुआ है। कानपुर की पहचान एक औद्योगिक नगर की रही है इसके साथ ही कानपुर की उससे पहले पहचान मां गंगा की अविरल धारा के कारण भी रही है। कानपुर के बिठूर ने देश की आजादी के एक प्रमुख गढ़ के रूप में विख्यात रहा है। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में कानपुर में मां गंगा को अविरल धारा दी गई। कानपुर में शीशामऊ के पास सबसे क्रिटिकल प्वाइंट हुआ करता था। नमामि गंगे परियोजना के माध्यम से क्रिटिकल प्वाइंट को समाप्त करके मां गंगा की अविरलता को बनाया गया।
उन्होंने कहा कि पब्लिक यातायात की सबसे महत्वपूर्ण व्यवस्था मेट्रो और बीना-पनकी भारत पेट्रोलियम पाइप लाइन का उपहार देने के लिए प्रधानमंत्री मोदी जी आए हैं। उन्होंने बताया कि दो वर्ष दो महीने में कानपुर मेट्रो का काम पूरा होना था। लेकिन कोरोना जैसी महामारी के बावजूद समय से पहले ही कानपुर मेट्रो परियोजना का काम पूरा करा लिया गया। नौ किलोमीटर की यह मेट्रो परियोजना पूरी होने के साथ ही मेट्रो की सुविधा देने वाला उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य बन गया है। उन्होंने बताया कि अब प्रदेश के पांच शहरों में मेट्रो यातायात की सुविधा दी जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here