कानपुर में कोरोना के तेवर हुए और तल्ख, 457 नए संक्रमित मिले, सक्रिय केस दो हजार के पार

0
35

कोरोना वायरस के तेवर जिले में तल्ख होते जा रहे हैं। शहर से लेकर गांव तक संक्रमण पांव पसारता जा रहा है। शुक्रवार को 457 नए कोरोना संक्रमित मिले हैं। कोरोना के सर्वाधिक केस जीएसवीएम मेडिकल कालेज और भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) में मिले हैं। इसी तरह छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय में भी मिले हैं। उच्च शिक्षण संस्थानों में लगातार संक्रमित मिलने से खलबली मच गई है। वहीं, दूसरी तरफ रेलवे के डिप्टी सीटीएम समेत 11 रेलकर्मचारी की रिपोर्ट भी पाजिटिव आई है। इसके साथ ही जिले में कोरोना के सक्रिय केस की संख्या 2,259 हो गई।

सीएमओ डा. नैपाल सिंह के मुताबिक कोरोना का संक्रमण जिले में तेजी से फैल रहा है। खासकर उच्च शिक्षण संस्थानों में बड़ी संख्या में शिक्षक व छात्र-छात्राएं संक्रमण की चपेट में आ रहे हैं। जीएसवीएम मेडिकल कालेज में लेवल-थ्री डेडीकेटेड कोविड हास्पिटल है। वहां के बड़ी संख्या में चिकित्सा शिक्षक से लेकर जूनियर डाक्टर को कोरोना का संक्रमण हो गया है, जिससे समस्या हो सकती है।

सीएमओ डा. नैपाल सिंह का कहना है कि कोरोना का संक्रमण गंभीर नहीं है। अभी तक जो संक्रमित मिले हैं, उनमें संक्रमण की पुष्टि होने के बाद हल्के लक्षण देखने को मिल रहे हैं। इसलिए घबराने की बात नहीं हैं। फिर भी बेवजह घर से बाहर न जाएं। अगर जाना पड़े तो मास्क जरूर लगाएं। हाथ भी अपने सैनिटाइजर करते रहें।

कोरोना के नए हाट स्पाट जीएसवीएम व सीएसजेएमयू 

शुक्रवार को जीएसवीएम मेडिकल कालेज के फैकल्टी व जूनियर डाक्टर मिलाकर 46 संक्रमित मिले हैं, उसमें दो प्रोफेसर भी हैं। कालेज में संक्रमितों की संख्या 81 हो गई है। इसी तरह छत्रपति शाहूजी महाराज विश्वविद्यालय (सीएसजेएमयू) में 12 संक्रमित मिले हैं। इससे पहले गुरुवार को छह संक्रमित मिले थे, जबकि कुलपति समेत चार अधिकारी पहले की चपेट में आ चुके हैं। विश्वविद्यालय में अब तक 22 लोगों को संक्रमण हो चुका है। ऐसे में जीएसवीएम मेडिकल कालेज और सीएसजेएमयू कोरोना का नया हाट स्पाट बन गया है।

आइआइटी में 23 नए छात्र-छात्राएं संक्रमित

आइआइटी पहले से ही हाट स्पाट है। शुक्रवार को आइआइटी की फैकल्टी एवं छात्र-छात्राएं मिलाकर 23 नए की कोरोना की रिपोर्ट पाजिटिव आई है। इसके साथ ही आइआइटी में कोरोना के सक्रिय केस 144 हो गई है। आइआइटी में संक्रमितों को आइसोलेट करने के लिए अलग हास्टल है। जहां उन्हें रखा जा रहा है। हालांकि बड़ी संख्या में लोग स्वस्थ भी हो चुके हैं।

डिप्टी सीटीएम समेत 11 रेलकर्मी संक्रमित

रेलवे कर्मचारी भी कोरोना की चपेट में तेजी से आने लगे हैं। डिप्टी सीटीएम समेत 11 अधिकारी व कर्मचारी संक्रमित हो गए हैं। सभी होम आइसोलेशन में चले गए हैं। उसमें चार कर्मचारी रिफ्रेशर कोर्स करने वाले हैं। रेलवे अफसरों और कर्मचारियों के बीच खलबली मच गई है। वहीं, लोको अस्पताल में एल वन कोविड हास्पिटल के लिए 25 बेड आरक्षित किए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here