KBC 10: आदिवासियों के इस ‘मसीहा’ को अमिताभ ने भी किया सलाम, 45 सालों में बदल दी लाखों की जिंदगी

0
256

‘कौन बनेगा करोड़पति सीजन 10’ में इस साल कई नई चीजों को शामिल किया गया है। इस बार सेलिब्रिटीज गेस्ट को बुलाने की बजाय ऐसे लोगों को तरजीह दी गई जिन्होंने समाजसेवा के क्षेत्र में काम किया और लोगों की जिंदगियां बदलने में अहम भूमिका निभाई हैं। इसी के तहत आज केबीसी के पहले कर्मवीर एपिसोड का प्रसारण किया जाएगा।

कौन बनेगा करोड़पति

महाराष्ट्र के समाजसेवी डॉक्टर प्रकाश आम्टे और उनकी पत्नी मंदाकिनी आम्टे साथ में नजर आएंगे। प्रकाश आम्टे शो के प्रोमो में कहते हैं कि वो आज तक पत्नी को एक साड़ी तक दिला नहीं पाए लेकिन उनकी वजह से ही आज यहां तक पहुंचे। हर मुश्किल घड़ी में मंदाकिनी उनके साथ साये की तरह खड़ी रही हैं।

kbc 10

‘कौन बनेगा करोड़पति’ के 5वें एपिसोड में दिखाया जाएगा कि प्रकाश आम्टे चाहते तो केवल अपने बारे में भी सोच सकते थे लेकिन वो पिछले 45 सालों से निस्वार्थ भाव से आदिवासियों की सेवा कर रहे हैं। बता दें कि प्रकाश आम्टे महाराष्ट्र में सक्रिय सामाजिक कार्यकर्ता हैं। उन्हें साल 2002 में पद्मश्री अवॉर्ड से सम्मानित किया गया था।

प्रकाश आम्टे

प्रकाश आम्टे के पिता बाबा आम्टे भी जिंदगी भर लोगों की सेवा करते रहे। पिता की राह पर चलते हुए प्रकाश आम्टे ने भी यही राह चुनी। बता दें कि प्रकाश और मंदाकिनी दोनों डॉक्टर भी हैं। दोनों आस-पास के इलाकों में लोगों का इलाज और उनकी जिंदगी को बेहतर बनाने की कोशिश करते रहे हैं।

प्रकाश आम्टे और मंदाकिनी जानवरों की भी सेवा करते हैं। उन्होंने अपने घर में एक एनिमल सेंचुरी खोली है जिसमें करीब 100 तरह के खतरनाक जीव रहते हैं। ये एनिमल सेंचुरी 1970 से शुरू हुई थी। वहीं इन जानवरों के बारे में प्रकाश आम्टे का कहना है कि उनके बच्चों को इनसे बिल्कुल भी डर नहीं लगता और वो बिना डर के उनके साथ रहते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here