सबसे ऊंचे सरदार पटेल

0
340

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को गुजरात के कावडिया में बनी दुनिया की सबसे ऊंची सरदार वल्लभभाई पटेल की प्रतिमा ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ का अनावरण किया। इसके बाद पीएम मोदी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि यदि सरदार साहब ने संकल्प न लिया होता तो फिर आज गीर के शेर को देखने के लिए, सोमनाथ में पूजा करने के लिए, हैदराबाद में चार मीनार को देखने के लिए हमें वीजा लेना पड़ता।
ये भी पढ़ें: PM मोदी ने किया ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ का अनावरण, बोले- विराट व्यक्ति को मिला उचित स्थान
स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के अनावरण के बाद पीएम मोदी ने कहा कि पूरा देश आज राष्ट्रीय एकता दिवस मना रहा है। भारत भक्ति की भावना से ही हमारी सभ्यता फल फूल रही है। आज का दिन इतिहास में कोई नहीं मिटा पाएगा। आज देश के विराट व्यक्ति को उचित स्थान मिला। पीएम ने कहा कि आज भारत अपनी शर्तों पर दुनिया से संवाद कर रहा है। सरदार के संकल्प से कन्याकुमारी से लेकर कश्मीर तक ट्रेन सेवा मिली। इसके अलावा सरदार पटेल की ही वजह से सभी रियायतें एक हुईं।
उन्होंने कहा, ‘सरदार पटेल की ये स्मारक उनके प्रति करोड़ों भारतीयों के सम्मान, हमारे सामर्थ्य, का प्रतीक तो है ही, ये देश की अर्थव्यवस्था, रोजगार निर्माण का भी महत्वपूर्ण स्थान होने वाली है। इससे हजारों आदिवासी बहन-भाइयों को हर साल सीधा रोजगार मिलने वाला है। प्रधानमंत्री ने कहा कि सरदार साहब के दर्शन करने आने वाले टूरिस्ट सरदार सरोवर डैम, सतपुड़ा और विंध्य के पर्वतों के दर्शन भी कर पाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here