बंगाल की खाड़ी में बना चक्रवात, विशेज्ञषों का अनुमान… बुधवार या शुक्रवार को बारिश की संभावना

0
236

बंगाल की खाड़ी में चक्रवात बनना शुरू हो गया है, जिसकी वजह से नमी लिए हवा मैदानी क्षेत्रों की ओर आनी शुरू हो गई हैं। बारिश कराने वाले सिस्टम अगले 48 घंटे में सक्रिय हो सकते हैं। बदली छाई रहेगी, जबकि बदली छाने की संभावना है। अरब सागर से हवा भी आ सकती है। तापमान में उतार चढ़ाव होगा।

चंद्र शेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम विज्ञानी एसएन सुनील पांडेय ने बताया की बंगाल की खाड़ी के उत्तर-पश्चिम भागों के ऊपर शीघ्र ही निम्न दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। एक चक्रवाती हवा का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी पर बना हुआ है, जो क्षोभमंडल की मध्य परतों तक फैला हुआ है। दक्षिण ओडिशा और उत्तरी तटीय आंध्र प्रदेश से दूर, इसी क्षेत्र में 48 घंटे के भीतर अगस्त का पहला निम्न दबाव क्षेत्र बनने की उम्मीद है।

यह मौसम प्रणाली जल्द ही अच्छी तरह से प्रभावी हो जाएगी और बनने के लगभग 24 घंटे बाद ओडिशा तट को भी पार करेगी। निम्न दबाव का क्षेत्र, ओडिशा, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश में बुधवार या गुरुवार को पहुंच सकता है। मौसमी सिस्टम आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान, दिल्ली और उत्तराखंड में को भी प्रभावित करेगा। सिक्किम, पश्चिम बंगाल समेत पूर्वोत्तर भारत में अगले तीन दिनों तक भारी बारिश के आसार हैं। मानसून ट्रफ का पश्चिमी छोर हिमालय की तलहटी के करीब चल रहा है और पूर्वी सिरा अपनी सामान्य स्थिति में है। एक चक्रवाती हवा का क्षेत्र उत्तर पश्चिम तथा उससे सटे हुए मध्य पश्चिम बंगाल की खाड़ी के ऊपर ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तट के आसपास बना हुआ है, जो समुद्र तल से 7.6 किलोमीटर ऊपर तक फैला हुआ है। अगले 24 घंटे के दौरान, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, छत्तीसगढ़, उत्तरी तेलंगाना, विदर्भ, मराठवाड़ा और मध्य प्रदेश में बारिश हो सकती है। बिहार और झारखंड में हल्की से मध्यम बारिश की संभावना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here