घातक बम विस्फोटों के बाद काबुल हवाईअड्डे के फाटक बंद, भीड़ को हटाया गया

0
118

काबुल हवाईअड्डे के सभी गेट शुक्रवार को एक दिन पहले हुए घातक दोहरे बम विस्फोटों के बाद बंद कर दिए गए , जिसमें 13 अमेरिकी कर्मियों सहित 90 लोगों की मौत हो गई। हवाईअड्डे के बाहर की भीड़ को हटा दिया गया है। एक कैब चालक मोहम्मद कुरैशी ने समाचार एजेंसी सिन्हुआ को बताया, “मैं लोगों के एक समूह को सुबह हवाई अड्डे पर ले गया। हम हवाईअड्डे तक पहुंचने में असफल रहे क्योंकि तालिबान सैनिकों ने वाहनों को हवाईअड्डे के पास नहीं जाने दिया, मैं उन्हें उनके घर वापस ले गया।”

कुरैशी ने कहा, “गठबंधन बलों और अफगान सुरक्षा बलों के एक समूह ने मुख्य द्वार सहित सभी फाटकों को बंद कर दिया, और कोई भीड़ नहीं देखी गई। मैंने दूर से यह सब देखा।”

पीड़ितों के अलावा, घातक हमलों में 150 से अधिक लोग भी घायल हुए थे, जिसकी जिम्मेदारी आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) समूह ने ली थी।

गुरुवार रात और शुक्रवार तड़के दर्जनों निकासी उड़ानें संचालित की गईं।

तालिबान के 15 अगस्त को शहर पर कब्जा करने के बाद से हवाई परिवहन अभियान को सुरक्षित करने के लिए काबुल हवाई अड्डे पर लगभग 6,000 अमेरिकी सैनिकों को तैनात किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here