गति शक्ति अभियान देश को एक नए युग की ओर ले जाएगा: सीएम योगी

0
9

सीएम योगी बोले- गति शक्ति अभियान शारदीय नवरात्रि में शक्ति के अनुष्ठान का व्यावहारिक रूप, राष्ट्र आराधना का एक व्यावहारिक रूप हमारे सामने आ रहा

प्रदेश ने इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के लिए अपनी कार्य योजना प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में पहले से शुरू किया

पहले से भारत सरकार के सहयोग से बहुत सारे ऐसे प्रोजेक्ट हैं, जो हमारे इंफ्रास्ट्रक्चर के डेवलपमेंट के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण हैं

13 अक्तूबर, गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि गति शक्ति का यह अभियान नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर मास्टर प्लान का शुभारंभ हम सबको प्रोत्साहित करने वाला है और देश को एक नए युग की ओर ले जाने वाला है। उत्तर प्रदेश ने साढ़े चार वर्ष में ईज ऑफ डूइंग बिजनेस में एक बड़ा लक्ष्य प्राप्त किया है। गति शक्ति अभियान शारदीय नवरात्रि में शक्ति के अनुष्ठान का व्यावहारिक रूप है और राष्ट्र आराधना का एक व्यावहारिक रूप हमारे सामने आ रहा है। मैं इसके लिए उत्तर प्रदेश की अपनी पूरी टीम को इस पूरे कार्य के लिए जुड़ने का आह्वान करता हूं।
यह बातें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को केंद्र सरकार की ओर से गति शक्ति अभियान नेशनल इंफ्रास्ट्रक्चर मास्टर प्लान के शुभारंभ के अवसर पर वर्चुअली कहीं। उन्होंने कहा कि देश के अंदर सबसे बड़ी आबादी के राज्य उत्तर प्रदेश की क्या भूमिका होगी इस दृष्टि से हमें आत्मावलोकन करने का एक अवसर प्राप्त हो रहा है। यह हमारा सौभाग्य है कि उत्तर प्रदेश ने इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के लिए अपनी कार्य योजना प्रधानमंत्री के मार्गदर्शन में पहले से शुरू किया है और पहले से भारत सरकार के सहयोग से बहुत सारे ऐसे प्रोजेक्ट हैं, जो हमारे इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण हैं। स्वभाविक रूप से यह आज की आवश्यकता है।
उन्होंने कहा कि हम सब इस बारे में जानते हैं कि गति शक्ति योजना एक सुदृढ़ भारत के निर्माण के लिए सुशासन के आदर्श पहल के रूप में जानी जा रही है। यह किसी भी परियोजना के नियोजन, त्वरित स्वीकृति और निर्णय लेने के लिए सिंगल विंडो प्लेटफॉर्म को उपलब्ध कराने का भी एक सशक्त माध्यम बनने जा रहा है। इस योजना के माध्यम से भारत का लक्ष्य निर्माण, मल्टी मॉडल कनेक्टिविटी, संसाधनों का उपयोग, ससमय नवीन क्षमताओं का निर्माण और बाधाओं के शीघ्र समाधान के लिए समग्र बुनियादी ढांचे का विकास करना है। सौ लाख करोड़ रुपए के निवेश की इस महायोजना के तहत युवाओं के लिए ढेर सारी रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने और उनके जीवन स्तर में भी सुधार करने का बेहतर अवसर होगा। लॉजिस्टिक की लागत में कमी आएगी और पूरे देश में आपूर्ति श्रृंखला में भी सुधार होगा।

भारत सरकार के सहयोग से चल रही परियोजनाएं उत्तर प्रदेश के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण: सीएम
सीएम योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश के अंदर पांच ट्रिलियन यूएस डॉलर की इकोनॉमिक बनाने का जो लक्ष्य रखा है, उसमें स्वभाविक रूप से उत्तर प्रदेश की महत्वपूर्ण भूमिका हो सकती है और जो प्रश्न हम सबके सामने खड़ा किया गया है कि अगर पांच ट्रिलियन यूएस डॉलर की इकोनामी अगले कुछ वर्षों में बनेगा, तो क्या उत्तर प्रदेश अपनी भूमिका का निर्वहन कर पाएगा। एक ट्रिलियन यूएस डॉलर इकोनॉमी को बनाने के लिए हमारा आगे का प्लान क्या होगा। इसमें भारत सरकार के सहयोग से जो कार्यक्रम वर्तमान में चल रहे हैं। प्रयागराज-वाराणसी-हल्दिया राष्ट्रीय अंतरदेशीय जलमार्ग, इस्टर्न और वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कारिडोर, मल्टी मॉडल लॉजिस्टिक और ट्रांसपोर्ट टर्मिनल, रीजनल रैपिड रेल (आरआरटीएस),दिल्ली-जेवर-वाराणसी हाई स्पीड रेल लिंक सहि तमाम प्रोजेक्ट हैं, जो उत्तर प्रदेश की दृष्टि से अत्यंत महत्वपूर्ण हैं।

प्रदेश की अर्थव्यवस्था और लोगों की आय को वृद्धि करने में मिल सकती है काफी मदद: सीएम योगी
सीएम योगी ने कहा कि राज्य सरकार और पूरी टीम भारत सरकार के साथ पहले से बेहतर समन्वय बना ले और समयबद्ध ढंग से समस्याओं के समाधान का रास्ता निकाल ले, तो न केवल देश की ईकोनॉमी को, बल्कि देश की सबसे बड़े आबादी के इस राज्य की 25 करोड़ की आबादी की आकांक्षाओं के अनुरूप यहां की अर्थव्यवस्था और उनकी आय को वृद्धि करने में काफी मदद मिल सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here